ये योगासन गर्भावस्था के दौरान महिलाऐं करें

योग करने से न सिर्फ मां का स्‍वास्‍थ्‍य बल्‍कि पेट में पल रहे शिशु का भी बेहतर विकास होता है। इसी मौके पर जानें प्रैग्नेंसी के दौरान कौन से योग करने फायदेमंद होते हैं। गर्भवती महिला को अपनी सीमा और स्‍वास्‍थ्‍य को ध्‍यान में रखते हुए योग करना चाहिये।

ये योगासन गर्भावस्था के दौरान महिलाऐं करें
yoga for pregnant lady

 ये योगासन गर्भावस्था के दौरान महिलाऐं करें |

गर्भावस्था के बाद महिलाओं के ब्रेन, ब्रैस्ट और भी कई पार्ट्स में हार्मोनल चेंजेस आने लगते हैं | इससे महिलाओं को कुछ अजीब महसूस होता है | गर्भावस्था के दौरान अगर जीवनशैली में योग को शामिल कर लिया जाए तो गर्भावस्था के दौरान बच्चे को स्वस्थ रखने और परेशानियों से बचे रहने में सहूलियत होगी | इतना ही नहीं गर्भावस्था के दौरान किया गया योग डिलीवरी को भी आसान बना देता है | तो चलिए कुछ खास योगासन को जानते हैं जिन्हें गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को करना चाहिए |

#yoga for pregnant lady for normal delivery

कुछ सावधानियाँ भी हैं जरूरी:

1.गर्भ के सांतवे महीने के बाद किसी भी आसन को करना वर्जित है इससे पेट में पल रहे शिशु पर बुरा प्रभाव होगा|

2.अगर इन आसनों को करने से आपके पेट में दर्द उठता है तो आप इसे न करें |

3.इस आसन को करने के पहले आप अपने हेल्थ के बारे में अच्छी तरह से जान लें | मतलब इस आसन का इस्तेमाल आप किसी अच्छे डॉक्टर की मदद से ही करें |

4.इन आसनों को करने के लिए आपको विशेषज्ञों का सहारा लेना चाहिए | खुद से यह आसन बिलकुल भी न करे |

 

पर्वतासन (Parvatasan) योगासन गर्भावस्था

अगर महिला गर्भवती है और वह बाहर घूमने नहीं जाती है, एक जगह बैठी रहती है तो यह आसन उसके शरीर में एनेर्जी को यूटीलाइज करने में मददगार होगा | यह आसन करने से रीढ़ में दर्द और कमर दर्द से छुटकारा पाया जा सकता है | इससे आपके कन्धों में होने वाले दर्द से भी आराम मिलाता है |

यस्तिकासन (Yastikasana) योगासन गर्भावस्था

तनाव को दूर करने और दिमाग को फ्रेश करने में यह आसन काफी मददगार है | इस आसन की मदद से गर्भवती महिला अपने तनाव को दूर कर अपना और अपने बच्चे का ख़याल अच्छी तरह से रख सकती हैं | अगर आप शरीर को पूरी तरह से स्ट्रेच करना चाहती हैं तो इस आसन को एक बार जरूर ट्राई करें |

वक्रासन (Vakrasana)  योगासन गर्भावस्था

इस आसन को करने से स्पाइनल कार्ड मजबूत होता है | यह बैकबोन के दर्द से आराम दिलाता है | इसके अलावा भी इस आसन को करने से हमारे शरीर के कई आन्तरिक अंग जैसे लीवर किडनी आदि के कार्य शक्ति को भी बढ़ाता है |

कोणासन  ( Konasana) योगासन गर्भावस्था

यह आसन गर्भावस्था के दौरान हो रहे कमर दर्द से छुटकारा दिलाने में मददगार होगा | इतना ही नहीं डिलीवरी होने के बाद महिलाओं के वजन में काफी इजाफा हो जाता है | इस आसन की मदद से फैट को कंट्रोल किया जा सकता है | यह आसन करने से गर्भावस्था के दौरान प्रसव में आसानी होगी | ध्यान रहे इस आसन को आप गर्भ के बाद सात महीने तक ही यूज कर सकती हैं |

भद्रासन (Bhadrasana)  योगासन गर्भावस्था

इस आसन की मदद से गर्भवस्था के दौरान आपके पाँव को काफी हद तक आराम मिल सकता है | भद्रासन करने से पेट में शिशु होने के चलते पाँव में भार के कारण हो रहे दर्द को कम किया जा सकता है | डॉक्टर्स भी इस आसन को करने के सलाह देते हैं |