हिंदी साहित्य

इज़्ज़त का खून -मुंशी प्रेमचंद जी की कहानी / Izzat Ka Khoon - Story of Munshi Premchand Ji

इज़्ज़त का खून -मुंशी प्रेमचंद जी की कहानी / Izzat Ka Khoon...

इज़्ज़त का खून-मै चाहता हूँ कि अपनी सारी मिलकियत, सारी जायदाद तुम्हारे नाम चढ़वा दूँ,...

घर जमाई -मुंशी प्रेमचंद जी की कहानी / Ghar-Jamai - Story of Munshi Premchand Ji

घर जमाई -मुंशी प्रेमचंद जी की कहानी / Ghar-Jamai - Story...

एक महीने से उसके साथ यहाँ जो बर्ताव हो रहा था और विशेषकर कल उसे जैसी फटकार सुननी...

गृह-नीति -मुंशी प्रेमचंद जी की कहानी / Grih Neeti - Story of Munshi Premchand Ji

गृह-नीति -मुंशी प्रेमचंद जी की कहानी / Grih Neeti - Story...

यह मेरी समझ में नहीं आता। तुम्हारी बहू पर जब दूसरी स्त्रियाँ चोट करें, तो तुम्हारे...

गिला -मुंशी प्रेमचंद जी की कहानी / Gila   - Story of Munshi Premchand Ji

गिला -मुंशी प्रेमचंद जी की कहानी / Gila - Story of Munshi...

संसार को उन लोगों की प्रशंसा करने में आनंद आता है, जो अपने घर को भाड़ में झोंक रहे...

धोखा -मुंशी प्रेमचंद जी की कहानी / Dhokha   - Story of Munshi Premchand Ji

धोखा -मुंशी प्रेमचंद जी की कहानी / Dhokha - Story of Munshi...

कर गये थोड़े दिन की प्रीति। वही हृदयग्राही राग था वही हृदयभेदी प्रभाव वही मनोहरता...

बूढ़ी काकी -मुंशी प्रेमचंद जी की कहानी / Budhi Kaki   - Story of Munshi Premchand Ji

बूढ़ी काकी -मुंशी प्रेमचंद जी की कहानी / Budhi Kaki - Story...

लाड़ली जूठे पत्तलों के पास चुपचाप खड़ी है और बूढ़ी काकी पत्तलों पर से पूड़ियों के...

स्वामिनी -मुंशी प्रेमचंद जी की कहानी / Swamini   - Story of Munshi Premchand Ji

स्वामिनी -मुंशी प्रेमचंद जी की कहानी / Swamini - Story...

रामप्यारी ने पुलकित कंठ से कहा- यह कैसे हो सकता है दादा, कि तुम मेहनत-मजदूरी करो...

वरदान -मुंशी प्रेमचंद जी की कहानी / Vardaan   - Story of Munshi Premchand Ji

वरदान -मुंशी प्रेमचंद जी की कहानी / Vardaan - Story of...

मैंने बड़ी तपस्या की है अतएव बड़ा भारी वरदान मांगूगी। ‘क्या लेगी कुबेर का धन'?

बेटों वाली विधवा -मुंशी प्रेमचंद जी की कहानी / Beton Wali Vidhawa   - Story of Munshi Premchand Ji

बेटों वाली विधवा -मुंशी प्रेमचंद जी की कहानी / Beton Wali...

किनारे पर दो-चार पंडे चिल्लाए- ‘अरे दौड़ो, बुढ़िया डूबी जाती है।’ दो-चार आदमी दौड़े...

बेटी का धन -मुंशी प्रेमचंद जी की कहानी / Beti Ka Dhan   - Story of Munshi Premchand Ji

बेटी का धन -मुंशी प्रेमचंद जी की कहानी / Beti Ka Dhan ...

गंगाजली उनके पास जाकर खड़ी हो गई। चौधरी ने उसे देखकर विस्मित स्वर में पूछा- क्यों...

आखिरी हीला -मुंशी प्रेमचंद जी की कहानी /Aakhiri Heela   - Story of Munshi Premchand Ji

आखिरी हीला -मुंशी प्रेमचंद जी की कहानी /Aakhiri Heela -...

यह मेरा आखिरी हीला नहीं है , क्या मैं वैवाहिक जीवन से इसलिए भागता हूँ कि मुझमें...

अभिलाषा -मुंशी प्रेमचंद जी की कहानी / Abhilasha   - Story of Munshi Premchand Ji

अभिलाषा -मुंशी प्रेमचंद जी की कहानी / Abhilasha   - Story...

'तुम्हें अब कोई अभिलाषा नहीं है ?' 'मेरी सबसे बड़ी अभिलाषा पूरी हो गई। अब मैं और...

आहुति -मुंशी प्रेमचंद जी की कहानी / Aahuti - Story of Munshi Premchand Ji

आहुति -मुंशी प्रेमचंद जी की कहानी / Aahuti - Story of Munshi...

आनन्द और विशम्भर दोनों ही यूनिवर्सिटी के विद्यार्थी थे। आनन्द के हिस्से में लक्ष्मी...

आखिरी तोहफा -मुंशी प्रेमचंद की कहानी

आखिरी तोहफा -मुंशी प्रेमचंद की कहानी

अमरनाथ उसके साथ दरवाजे तक आये जब वह तांगे पर बैठी तो बिनती करते हुए बोले-यह साड़ी...

सुभागी  - मुंशी प्रेमचंद की कहानी  | Famous Story of Munshi Premchand –‘Subhagi’

सुभागी - मुंशी प्रेमचंद की कहानी | Famous Story of Munshi...

सुभागी ग्यारह साल की बालिका होकर भी घर के काम में इतनी चतुर, और खेती-बारी के काम...

दो बहनें-मुंशी प्रेमचंद जी की कहानी / Do Bahnen- Story of Munshi Premchand Ji

दो बहनें-मुंशी प्रेमचंद जी की कहानी / Do Bahnen- Story...

दो बहनें- ये पुरुष भी कितने गावदी होते हैं। किसी में भी सच्चे सौन्दर्य की परख नहीं।...

बड़े घर की बेटी -मुंशी प्रेमचंद जी की कहानी /Bade Ghar Ki Beti- Story of Munshi Premchand Ji

बड़े घर की बेटी -मुंशी प्रेमचंद जी की कहानी /Bade Ghar...

बड़े घर की बेटी-आनंदी अपने नये घर में आयी, तो यहॉँ का रंग-ढंग कुछ और ही देखा। जिस...

तेंतर मुंशी प्रेमचंद की कहानी | Tentar - munshi premchand ki kahani

तेंतर मुंशी प्रेमचंद की कहानी | Tentar - munshi premchand...

यह तो कहो बड़ी कुशल हुई कि बुढ़िया के सिर गयी; नहीं तो तेंतर माँ-बाप दो में से एक...